'जब तक है जान' से परेशान 'सन ऑफ सरदार'

हर दीवाली सिने प्रेमियों के लिए दो बड़ी फिल्‍में रिलीज होती हैं। इस बार भी ऐसा ही कुछ होने जा रहा है, लेकिन इस बार फिल्‍म रिलीज को लेकर विवाद सा खड़ा हो गया है, क्‍यूंकि यशराज बैनर्स ने महानगरों के बड़े सिनेमा घरों पर पहले से बुकिंग कर ली, जिसके चलते सन ऑफ सरदार के रास्‍ते में मुश्किलें खड़ी हो गई।

बीबीसी हिन्‍दी डॉट कॉम के अनुसार यशराज बैनर ने इन आरोपों का खंडन किया और कहा कि दोनों फिल्मों के लिए पर्याप्त सिनेमाघर उपलब्ध हैं। इस पर अजय देवगन बड़े सख्त लहज़े में कहते हैं, ''क्या हम बेवकूफ़ हैं । हां हैं न सिनेमाघर हैं, पर दक्षिण भारत में हैं, दक्षिण भारत में लोग 'सन ऑफ़ सरदार' देखेंगे या फिर अपनी दक्षिण भारतीय फिल्में?।

डॉट कॉम के अनुसार अजय कहते हैं, ''मुंबई के दादर में सात सिनेमाघर हैं, जिनमें से छ: पर यशराज की फिल्म लगने वाली है। हमारे लिए बचा एक सिनेमाघर। अब आप ही बताएं कि क्या ये बात गलत नहीं है।

एक सवाल के जवाब में अजय कहते हैं, ''इतने बड़े बजट की फिल्म को अपनी लागत वसूल करने में कम से कम दो हफ्ते लगते हैं।
अगर हम अपनी फिल्म 23 नवंबर को रिलीज़ करते हैं तो उसके अगले हफ्ते आमिर खान की फिल्म 'तलाश' रिलीज़ हो रही है। फिर अक्षय कुमार की 'खिलाडी 786' है और फिर साल के अंत में सलमान खान की 'दबंग 2' रिलीज़ हो रही है। अब क्या आप इन सब से कहेंगे कि वो अपनी फिल्मों की रिलीज़ दो हफ्ते आगे बढ़ा दें।

अजय देवगन सवालिया लहजे में पूछते हैं कि यशराज फिल्म्स के लिए सिर्फ वो ही अपनी फिल्म का बलिदान क्यों दें ?

Comments

Popular posts from this blog

महात्मा गांधी के एक श्लोक ''अहिंसा परमो धर्म'' ने देश नपुंसक बना दिया!

हैप्पी अभिनंदन में इंदुपुरी गोस्वामी

कुछ मिले तो साँस और मिले...

'XXX' से घातक है 'PPP'

यदि ऐसा है तो गुजरात में अब की बार भी कमल ही खिलेगा!

विद्या बालन की 'द डर्टी पिक्‍चर'

movie review : संतोषी का अंदाज फटा पोस्‍टर निखरा शाहिद