सुभाष की खोज मिष्‍टी बनेगी कांची

सपना रीना रॉय कालीचरण, टीना टीना मुनीम कर्ज, राधा मिनाक्षी हीरो, राधा माधुरी दीक्षित रामलखन, राधा मनीषा कोईराला सौदागर, गंगा माधुरी दीक्षित खलनायक, गंगा महिमा चौधरी परदेस, मानसी, एश्‍वर्या ताल, ईशा करीना कपूर यादें, लक्ष्‍मी ईशा कृष्‍णा, अनुशका कैटरीना कैफ युवराज के बाद अब सुभाष घई दर्शकों को अपनी नई खोज कांची से मिलाने जा रहे हैं। कांची के लिए उन्‍होंने काफी लड़कियों के ऑडिशन लिए और अंत अपनी खोज को संपूर्ण किया।

मगर इत्‍तेफाक देखिए, सुभाष घई एक बार फिर से एम फेक्‍टर को अजमाने जा रहे हैं। जी हां, सुभाष घई की फिल्‍मों की ज्‍यादातर नायिकाओं के नाम एम से शुरू होते हैं, एम फेक्‍टर उनके लिए बेहद लक्‍की रहा है। कुछ फिल्‍मों में उन्‍होंने एम फेक्‍टर को भुला दिया था, मगर वो फिल्‍में बॉक्‍स ऑफिस पर पिट गई। यादें, कृष्‍णा एवं युवराज ऐसी फ्लॉप फिल्‍में हैं, जिनमें एम फेक्‍टर नहीं था, इसलिए शायद कांची के लिए उन्‍होंने मिष्‍टी को ढूंढ़कर एक बार फिर से एम फेक्‍टर को अजमाने की कोशिश की है। देखते हैं राधा गंगा से कितने कदम आगे निकल पाती है सुभाष की कांची। इस नयी लड़की नाम मिष्टी है। वह मूल रूप से कोलकाता की रहने वाली है।

मिष्‍टी की यह पहली फिल्‍म होगी, क्‍यूंकि अब तक उसने किसी फिल्म में भी काम नहीं किया। मिष्‍टी तक पहुंचने के लिए सुभाष घई को चार सौ लड़कियों के ऑडिशन लेने पड़े। मिष्टी का चयन इन चार सौ लड़कियों के बीच में से हुआ। नीली आंखों और घुंघराले बालों वाली यह लड़की सुभाष घई की फिल्म 'कांची' की नायिका बनेगी। इस फिल्म के लिए अभिनेता ऋषि कपूर और मिथुन चक्रवर्ती को पहले ही साइन किया जा चुका है। इस फिल्म में हीरो के रूप में कार्तिक तिवारी को साइन किया जा सकता है।

सुभाष घई अपनी फिल्मों में एक नयी लड़की को लांच करने के लिए जाने जाते हैं। माधुरी दीक्षित, मनीषा कोईराला, महिमा चौधरी, मीनाक्षी शेषाद्री और ईशा शेरवानी जैसी नायिकाओं को सुभाष घई ने ही अपनी फिल्मों से डेब्‍यू करवाया था। मुक्‍ता आर्ट्स ने कांची का प्रमोशन गत वर्ष 14 अगस्‍त से शुरू कर दिया था, मगर यह फिल्‍म इस साल 15 अगस्‍त को रिलीज होगी। उम्‍मीद है कि शोमैन जोरदार वापसी करेंगे।

Comments

Post a Comment

हार्दिक निवेदन। अगर आपको लगता है कि इस पोस्‍ट को किसी और के साथ सांझा किया जा सकता है, तो आप यह कदम अवश्‍य उठाएं। मैं आपका सदैव ऋणि रहूंगा। बहुत बहुत आभार।

Popular posts from this blog

हैप्पी अभिनंदन में इंदुपुरी गोस्वामी

कुछ मिले तो साँस और मिले...

महात्मा गांधी के एक श्लोक ''अहिंसा परमो धर्म'' ने देश नपुंसक बना दिया!

विद्या बालन की 'द डर्टी पिक्‍चर'

यदि ऐसा है तो गुजरात में अब की बार भी कमल ही खिलेगा!

'XXX' से घातक है 'PPP'

'प्रभु की रेल' से अच्छी है 'रविश की रेल'